शिमला (एमबीएम न्यूज): बढती सर्दी से घरों में जल रही अंगीठियां खतरे का सबब बन गई है। इससे निकलने वाली कार्बन मोनोऑक्साइड गैस जान पर बन आती है। वीरवार को पुलिस के कंट्रोल रूम में सूचना मिली कि टालैंड के नजदीक अमर कोटेज में दो व्यक्तियों को अंगीठी की गैस से घुटन हो रही है। एक पल गवाएं बगैर पुलिस टीम मौके पर पहुंची। फौरन ही कमरे से दोनों लडकों को खुली हवा में निकाल लिया गया। साथ ही प्राथमिक चिकित्सा प्रदान की गई।

       मौके पर जब पुलिस पहुंची थी तब दोनों ही युवक अचेत अवस्था में थे। जिनकी पहचान अजीत शर्मा पुत्र मोहन शर्मा उम्र 20 वर्ष व राम शर्मा पुत्र ब्रहमानंद निवासी नटियाल उत्तराखंड के तौर पर की गई है। फौरन ही पुलिस ने युवकों को अचेत अवस्था में डीडीयू में दाखिल करवाया।

       गौरतलब है कि हाल ही में समरहिल के समीप चेली गांव में पांच मजदूरों की एक साथ मौत हो गई थी। मौत की वजह कार्बन मोनोऑक्साइड गैस ही थी। जानकारों का कहना है कि सर्दी में अंगीठी जलाने के बाद नींद आ जाती है। यही लापरवाही जान ले लेती है।

      एसपी डीडब्लयू नेगी ने दोनों युवकों की हालत स्थिर होने की बात कही है। पुलिस के एक्शन में अगर कुछ देरी हुई होती तो दोनों युवकों की जान पर बन सकती थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.